30.1 C
New Delhi
Tuesday, September 28, 2021

भारत में कोरोना के दक्षिण अफ्रीकी स्ट्रेन की दस्तक, स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- अब तक 4 मरीज मिले

Must read

भारत में दक्षिण अफ्रीका वाले कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया है. दक्षिण अफ्रीका से लौटे 4 लोगों में यह कोविड-19 का यह नया रूप मिला है. सभी पीड़ित लोगों को क्वारंटीन कर दिया गया है और उनके संपर्क में आए लोगों का भी टेस्ट कर उन्हें क्वारंटीन कर दिया गया है. बता दें कि ब्राजील वाले कोरोना वायरस का भी एक मामला फरवरी के पहले हफ्ते में सामने आया था. खास बात ये है कि दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील वाले कोरोना वायरस का रूप ब्रिटेन में मिले नए स्ट्रेन से अलग है.

केरल और महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का कहर जारी है. इन दोनों राज्यों में ही देश के 72 फीसदी एक्टिव मामले हैं. हालांकि, देश में कुल सक्रिय मामलों की संख्या गिरी है. देश में फिलहाल 1.40 लाख से कम कोविड-19 मरीज हैं. मंगलवार को प्रेस ब्रीफिंग के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी है. खास बात है कि महाराष्ट्र में बढ़ते मामलों को देखते हुए अधिकारियों को राज्य में दूसरी लहर का डर सता रहा है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, केरल में 61 हजार 550 और महाराष्ट्र में 37 हजार 383 एक्टिव मामले हैं. ये देश के 72 प्रतिशत एक्टिव केस हैं. स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि बीते 7 दिनों में भारत में प्रति 10 लाख आबादी पर 56 नए मामले मिले हैं. भारत में कोरोना वायरस के कुल मरीजों का आंकड़ा 1 करोड़ 9 लाख 25 हजार 531 है. वहीं, अब तक कोविड-19 के चलते 1 लाख 55 हजार 850 मरीजों की मौत हो चुकी है. यह आंकड़े कोविड 19 इंडिया की वेबसाइट से लिए गए हैं.

शनिवार रात औरंगाबाद में पत्रकारों से बातचीत के दौरान डिप्टी सीएम अजीत पवार ने कहा ‘अगर मामले लगातार बढ़ते रहे, तो हमें मुख्यमंत्री से बात करने के बाद कड़े कदम उठाने होंगे.’ सोमवार को राज्य में 23 मौतें भी हुई हैं. इस लिहाज से महाराष्ट्र में संक्रमितों का आंकड़ा 20 लाख 67 हजार 643 पर पहुंच गया है. जबकि, अब तक 51 हजार 552 मरीजों की मौत हो चुकी है. बीते 6 दिनों से राज्य में रोज 3 हजार से ज्यादा मामले मिल रहे हैं.

वैक्सीन के मामले में आगे भारत
अच्छी खबर है कि भारत वैक्सीन के मामले में बेहतर प्रदर्शन कर रहा है. मंत्रालय ने जानकारी दी कि अब तक 87 लाख 40 हजार 595 लोगों को कोविड-19 के खिलाफ वैक्सीन दी जा चुकी है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि राजस्थान, सिक्किम, झारखंड, मिजोरम, केरल, उत्तर प्रदेश, ओडिशा, हिमाचल प्रदेश, त्रिपुरा, बिहार, छत्तीसगढ़, एमपी, उत्तराखंड, लक्षद्वीप में 70 फीसदी से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जा चुका है.

वैक्सीन का पहला डोज लगने के बाद अब दूसरे डोज की प्रक्रिया भी जारी है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी कि लद्दाख, झारखंड, असम, यूपी, तेलंगाना, त्रिपुरा, गुजरात और गोवा में स्वास्थकर्मियों को वैक्सीन का दूसरा डोज दिया जा चुका है. भारत में बीती 16 जनवरी से दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीन प्रोग्राम शुरू हो गया है. सरकार पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगा रही है.

नए स्ट्रेन का हाल
इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के प्रमुख बलराम भार्गव ने मंगलवार को ब्रिटेन में मिले वायरस के वैरिएंट की अपडेट दी. उन्होंने बताया कि देश में नए वैरिएंट के कुल 187 मरीज मिले हैं. फिलहाल इन सभी मरीजों को क्वारंटाइन किया गया और इलाज जारी है. उन्होंने बताया कि मरीजों के कॉन्टैक्ट्स को भी आइसोलेट किया गया है और उनकी जांच की जा रही है. उन्होंने कहा कि ICMR-NIV मिलकर SARS-CoV-2 के दक्षिण अफ्रीकी वैरिएंट को आइसोलेट और कल्चर करने की कोशिश कर रही है.

Trending