27.1 C
New Delhi
Monday, June 14, 2021

ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन का भारत बंद कल:रांची सहित पूरे राज्य में न सामान आएंगे और न जाएंगे, लोडिंग-अनलोडिंग भी रहेगी बंद

Must read

व्यापारिक संगठन कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स की ओर से 26 फरवरी शुक्रवार को भारत बंद का आह्वान किया गया है. CAT की इस बंदी को रांची गुड्स ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने भी अपना समर्थन दिया है. इससे रांची सहित पूरे राज्य में गुड्स की सप्लाई शुक्रवार को ठप रहेगी.

ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के प्रवक्ता सुनील सिंह चौहान ने बताया कि शुक्रवार को रांची में लगभग 500 ट्रक गुड्स की सप्लाई बाधित रहेगी. इसमें रोजमर्रा की जरूरत की सामान शामिल हैं. उन्होंने बताया कि इस दौरान रांची में सामान की न ही कोई गाड़ियां आएंगी और न ही यहां से कोई गाड़ी जाएगी. इसका असर लोकल ट्रांसपोर्टेशन पर भी पड़ सकता है.

क्यों कर रहे हैं विरोध

CAT केंद्र सरकार से GSTके नियमों को आसान करने, ई-वे बिल में संशोधन को वापस लेने की मांग और पेट्रोल-डीजल के दामों को कम करने की मांग कर रहा है. GST के नियमों को जटिल बनाने से सभी व्यवसायी वर्ग के लिए व्यवसाय करना मुश्किल हो गया है. पेट्रोलियम उत्पादों के दाम में भारी बृद्धि, से परिवहन व्यवसाय घाटे में जा रहा है. ई-वे बिल को अव्यहारिक बनाये जाने से व्यवसाय करना मुश्किल हो गया है.ई -वे- बिल के वर्तमान नियम से परिवहन व्यवसाय करना ही मुश्किल होगा. विभिन्न राज्यों की भौगोलिक स्थिति, कानून व्यवस्था, स्थानीय सड़कों, नो इंट्री इत्यादि के अध्ययन किये बग़ैर एक अव्यहारिक नियम को व्यवसायी वर्ग पर लाद कर भय की स्थिति उत्पन्न कर दी गई है.

इन व्यापारिक संगठनों ने बंद का किया है समर्थन

26 फरवरी 2021 को कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स, (CAT) एवं ऑल इंडिया ट्रांसपोर्ट वेलफेयर एसोसिएशन (AITWA) द्वारा एक दिवसीय भारत बन्द का रांची गुड्स ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन, झारखंड लोक जनशक्ति मजदूर यूनियन, झारखंड प्रगतिशील मजदूर यूनियन, राँची लोकल ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन, झारखंड ट्रक ऑनर एसोसिएशन, झारखंड मोटर मालिक संघ के साथ अन्य सगठनों ने किया है. इस दिन माल की बुकिंग/डिलीवरी/लदाई का काम पूरी तरह से बन्द रहेगा.

झारखंड चैंबर ने दिया नैतिक समर्थन

इधर, चैंबर ने CAT की ओर से बुलाए गए इस बंदी को नैतिक समर्थन दिया है. झारखंड चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष प्रवीन जैन छाबड़ा ने कहा कि जीएसटी के वर्तमान संशोधन से हर व्यापारी परेशान है. ऐसे में झारखंड चेंबर ऑफ कॉमर्स ने तय किया है कि वह कैट के द्वारा बुलाए गए भारत बंद का नैतिक समर्थन करेगा. यह फैसला चेंबर ऑफ कॉमर्स की कार्यकारिणी के बैठक में लिया गया है.

Trending